7 ways to avoid radiation from your gadgets


how to reduce radiation from cell phone tower



आज के इस युग में सिर्फ बड़े और बुढ़े ही नहीं बल्कि छोटे-छोटे बच्चे भी मोबाइल को अपना बेस्ट-फ्रेंड समझते हैं। छोटे इंसान से लेकर बड़े इंसान तक सभी मोबाइल से चुंबक की तरह जुड़े हैं। कई लोगों को तो सुबह उठने से लेकर रात को सोते समय तक मोबाइल पर ही बने रहना अच्छा लगता है। मोबाइल से जहां लोग अपनों से दूर रहकर भी दूर महसूस नहीं करते वहीं इंसानों की ज़िंदगी में दखल देने वाला यह मोबाइल फोन एक गंभीर समस्या का कारण भी बन चुका है।

how to block phone radiation  do cell phones emit radiation in airplane mode  how to avoid radiation from cell phones  do cell phones emit radiation when off  do cell phones emit radiation when not in use  how to reduce wifi radiation at home  do cell phones emit radiation when using wifi  cell phone radiation protector
7 ways to avoid radiation from your gadgets

शहर सहित ग्रामीण अंचलों में पिछले कुछ वषोर्ं में मोबाइल टावरों की संख्या बढ़ी है। मोबाइल टावर की संख्या में जितनी वृद्घि हुई है, उतनी ही बढ़ोत्तरी टावर से निकलने वाले रेडिएशन में हुआ है। मोबाइल टावर से निकलने वाला रेडिएशन मनुष्य ही नहीं बल्कि पशु पक्षियों के लिए घातक है।
आप यह तो जानते होंगे कि मोबाइल फोन से निकलने वाले रेडिएशन से कमजोर याददाश्त, दिल की बीमारियां, ब्रेस्ट कैंसर, फेफड़ों का कैंसर और ब्रेन ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं।

आइए हम आपको बताते हैं इससे बचने के 7 खास उपाय –


स्पीकर या ईयरफोन का इस्तेमाल करें : (Speaker & Earphone)


ईयरफोन या स्पीकर सिर्फ गाना सुनने के ही प्रयोग में नहीं आते हैं बल्कि इससे आप किसी से फोन पर बात भी करें तो आप कई बीमारियों को खुद से दूर रख सकते हैं। फोन को सीधे कान पर लगा कर बात करने से बेहतर है स्पीकर या ईयरफोन का इस्तेमाल करें।

फोन जितना दूर रहे उतना अच्छा : (The better the phone is:)

अगर कॉल पर बात नहीं कर रहे हैं तो फोन को शरीर के बहुत पास न रखें। फोन जितना दूर रहेगा उतना कम रेडिएशन आपके शरीर तक पहुंचेगा।

मैसेज ऐप्स का प्रयोग करें : (Used Masseging Apps)

फोन पर कॉल कर के बात करने के बजाए मैसेज कर के बात करना बेहतर है। कॉल पर बात करते वक्त ज्यादा रेडिएशन निकलता है। आज वहाट्सएप जैसे अनेक मैसेजिंग ऐप उपलब्ध हैं जिनका प्रयोग करके आप फोन पर ज्यादा बात करने से बच सकते हैं।

कम रेडिएशन वाला फोन खरीदें : (Purchase Low Rediation Phones)

मोबाइल फोन से लोगों पर हो रहे बुरे प्रभाव को देखते हुए भारत सरकार ने तय किया भारत में बिकने वाले मोबाइल फोंस का स्पेसिफिक एब्जोर्प्शन रेट वाला मोबाइल फोन ही प्रयोग करें।

मोबाइल सिग्नल पर ध्यान दें : (Pay attention to mobile signal)

कॉल तब करें जब सिग्नल अच्छे आ रहे हों क्योंकि कम सिग्लन मिलने पर फोन को नेटवर्क ढूंढने के लिए ज्यादा जोर लगाना पड़ता है और रेडिएशन की मात्रा बढ़ जाती है।

तकिए के नीचे या पॉकेट में फोन रखने से बचें : (Avoid calling pillows or under pocket)

अगर कॉल पर बात नहीं कर रहे हैं तो फोन को शरीर के बहुत पास न रखें। फोन जितना दूर रहेगा उतना कम रेडिएशन आपके शरीर तक पहुंचेगा। फोन जब इस्तेमाल में नहीं होता, तब भी उसमें से रेडिएशन निकलता हैं। इसलिए फोन को तकिए के नीचे या पॉकेट में न रखें। अगर ऐसा करते भी हैं तो स्विच ऑफ या एयरप्लेन मोड पर रखें।

पुराने फोंस को त्याग दें : (Discard the old fones)

अगर आपका फोन बहुत पुराना हो गया है तो इसे त्याग दें। जी हां, पुरानी टेक्नोलॉजी वाले फोन को बाय-बाय बोलिए और जल्द ही स्मार्टफोन खरीद लीजिए जिसका स्पेसिफिक एब्जोर्प्शन रेट (Specific Absorption Rate, SAR) 1.6 वाट/किग्रा से कम हो।

Attention

रेडिएशन से बचने के लिये आबादी क्षेत्र से बाहर लगाए टावर

पक्षियों पर पड़ रहा प्रभावःविशेषज्ञों की माने तो टावर से निकलने वाले रेडीएशन से पशु पक्षी के जीवन शैली पर प्रभाव पड़ता है।विगत कुछ वर्षों से गोरेल्ला व अन्य प्रजाति के पक्षियों में कमी आई है जिसके पीछे इस रेडीएशनको माना जा रहा है।


आबादी क्षेत्रों में टावर लगाने का प्रभाव पड़ता है। इससे निकलने वाला रेडीएशन मनुष्य के साथ-साथ पशु पक्षियों के लिए घातक होता है। पहले गोरेल्ला व अन्य प्रजाति की चिड़िया शहर में नजर आती थी लेकिन अब यह नहीं दिखती यह सब टावर से निकलने वाले रेडीण्शन के प्रभाव से होता है। इससे बीमारी भी होती है। उन्होंने कहा कि आबादी क्षेत्र से बाहर टावर लगाना चाहिए।

NOTE:-अगर आपको हमारी Post अच्छी लगी तो Share Karna Na भूले अगर आपको Is Post Se Related Kuch Puchna Hai To Comment Karke Puch Sakte Hain. Or Social Media Jaise Facebook Twitter Etc Per Bhi Join Kar Sakten Hain, Jesse Har New Post Aap Tak Pahuchti Rahegi!



Post a Comment

Previous Post Next Post